ताज़ा खबरदेश-दुनिया समाचारसंसार

ईरान के राष्ट्रपति इब्राहिम रईसी का हेलीकाप्टर क्रैश, किसी के भी जीवित होने के नहीं मिले संकेत

खराब मौसम में चलाए गए रेस्क्यू आपरेशन के बाद बरामद हुआ मलबा, हेलीकाप्टर में विदेश मंत्री के साथ गर्वनर और कुछ अंगरक्षक थे सवार

The live ink desk. ईरान के राष्ट्रपति इब्राहिम रईसी (President, Ebrahim Raisi) एक हेलीकाप्टर हादसे (helicopter crash) का शिकार हो गए हैं। हेलीकाप्टर में राष्ट्रपति के साथ विदेश मंत्री हुसैन अमीर अब्दुल्लाहियन समेत कुछ अधिकारी हेलीकाप्टर पर सवार थे। यह हादसा ईरान-अजरबैजान की सीमा पर हुआ। बताया जाता है कि जिस वक्त हेलीकाप्टर उड़ान भर रहा था, स्थानीय मौसम काफी खराब था और चारों तरफ घना कोहरा छाया हुआ था।

हादसे की सूचना पर चलाए गए रेस्क्यू आपरेशन के बाद हेलीकाप्टर का मलबा बरामद हुआ, जिसमें कई जले हुए शव पाए गए। इससे यह अनुमान लगाया जा रहा हैकि हेलीकाप्टर में सवार लोगों में कोई भी इस दुनिया में नहीं बचा है। इस हादसे को लेकर बीते कुछ घंटों से सोशल मीडिया प्लेटफार्म एक्स पर तरह-तरह की खबरें भी आ रही हैं।

ईरान के सरकारी टीवी के मुताबिक राष्ट्रपति इब्राहिम रईसी (President, Ebrahim Raisi) पड़ोसी मुल्क अजबरैजान की एक दिनी यात्रा पर गए थे। वहां उन्होंने अपने समकक्ष इल्हाम अलियेव से मुलाकात की और एक बांध का उद्घाटन भी किया।

वापसी में उनके हेलीकाप्टर को अजरबैजान से लगती सीमा पर ईरान के पूर्वी अजबरबैजान प्रांत में स्थित जोल्फा शहर के नजदीक किसी समस्या की वजह से लैंडिंग करनी पड़ी। यह शहर राजधानी तेहरान से 600 किलोमीटर के फासले पर है।

राष्ट्रपति के हेलीकाप्टर के क्रैश (helicopter crash) होने की सूचना पर रेस्क्यू आपरेशन में लगी टीम को घंटों पर हेलीकाप्टर का मलबा मिला। एक ईरानी समाचार एजेंसी के द्वारा जारी किए गए समाचार के मुताबिक जहां यह हादसा हुआ, वहां घना जंगल है। मलबे में किसी के जीवित मिलने के कोई संकेत नहीं मिले हैं।

इब्राहिम के काफिले में शामिल थे तीन हेलीकाप्टर

राष्ट्रपति इब्राहिम रईसी के काफले में कुल तीन हेलीकाप्टर शामिल थे, जिसमें से दो पर मंत्री और अधिकारी सवार थे। जबकि एक पर राष्ट्रपति, विदेश मंत्री, गर्वनर थे। इस हादसे की सूचना मिलते ही ईरान के उपराष्ट्रपति दबरीज भी घटनास्थल की तरफ रवाना हो गए थे। तेहरान सरकार के प्रवक्ता अली बरादोरी जहरोमी ने कैबिनेट की इमरजेंसी मीटिंग बुलाई। इस मामले की हर छोटी-बड़ी जानकारी और हालातों पर नजर रखी जा रही है।

अयातुल्ला अली खामनेई के करीबी थे इब्राहिम रईसी

मध्य-पूर्व में स्थित ईरान के राष्ट्रपति इब्राहिम रईसी ने अपने करियर की शुरुआत बतौर अधिवक्ता की थी। साल 2021 में कट्टरपंथी नेता रईसी ने ईरान के राष्ट्रपति पद को ग्रहण किया था। राष्ट्रपति का चुनाव जीतने से पहली भी इब्राहिम रईसी कई मामलों को लेकर चर्चा में रहे। वह सुप्रीम लीडर अयातुल्ला अली खामनेई के करीबी माने जाते हैं। माना जाता है कि वह ही खामनेई के उत्तराधिकारी भी हो सकते हैं। इब्राहिम रईसी पर अमेरिका के द्वारा प्रतिबंध भी लगाया जा चुका है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button