ताज़ा खबरदेश-दुनिया समाचारभारतलोकसभा चुनाव 2024

Lok Sabha Elections 2024: 240 सीटें जीत भाजपा बनी सबसे बड़ी पार्टी

भाजपा को छोड़ किसी भी पार्टी ने पार नहीं किया दहाई का आंकड़ा, 99 सीटों के साथ कांग्रेस दूसरे तो 37 सीटों के साथ सपा तीसरे स्थान पर

The live ink desk. 18वीं लोकसभा के लिए चार जून, 2024 को हुई मतगणना में देश के जनमत ने भारतीय जनता पार्टी (BJP) को एक बार फिर से सबसे बड़ी पार्टी बना दिया। चार जून को देर रात तक चली मतगणना के बाद भारत निर्वाचन आयोग ने सभी सीटों के परिणाम घोषित किए।

2019 के चुनाव में जहां भाजपा को अकेले 303 सीटें मिली थीं, वहीं इस बार भाजपा के खाते में कुल 240 सीटें आई हैं। इस बार भाजपा को 63 सीटों पर नुकसान उठाना पड़ा। जबकि एनडीए गठबंधन (NDA) के पास 2019 में 353 सीटें थीं।

लोकसभा चुनाव 2024 के लिए हुई मतगणना में भाजपा (BJP) जहां 240 सीट जीतकर सबसे बड़ी पार्टी बन गई है तो दूसरी कोई भी ऐसी पार्टी नहीं रही, जिसने दहाई का आंकड़ा पारकर तीन डिजिट में सीटें पाई हों। दूसरे नंबर पर भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस है। भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस (Congress) को कुल 99 सीटें मिली हैं, जबकि पिछले चुनाव में कांग्रेस कुल 52 सीटों तक सीमित थी।

2024 के लोकसभा चुनाव में जो अविश्वसनीय घटनाक्रम हुआ, वह समाजवादी पार्टी के साथ है। उत्तर प्रदेश में महज पांच सीटों पर सफर करने वाली समाजवादी पार्टी (SP) इस चुनाव में तीसरी सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी और उसे कुल 37 सीटों पर जीत मिली। चौथे स्थान पर ममता बनर्जी की टीएमसी (All India Trinamool congress) रही, टीएमसी को कुल 29 सीटों पर विजय मिली है।

डीएमके को 22 सीट, टीडीपी (तेलुकु देशम) को 16 जनता दल यूनाइटेड (जदयू) को 12, शिवसेना (उद्धव ठाकरे) को आठ, शिवसेना (एसएचएस) को सात सीटें, लोकजनशक्ति पार्टी (रामविलास) को पांच सीटें मिली हैं।

युवजन श्रमिक रिथु कांग्रेस पार्टी (वाईएसआरसीपी), राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी), कम्युनिस्ट पार्टी आफ इंडिया (सीपीआईएम) को चार-चार सीटों पर विजय हासिल हुई है। जबकि इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग (आईयूएमएल) को तीन, आम आदमी पार्टी (आप) को तीन, झारखंड मुक्ति मोर्चा को तीन सीटें मिली हैं।

जनसेना पार्टी (जेएनपी), कम्युनिस्ट पार्टी आफ इंडिया मार्क्सवादी लेनिनवादी (सीपीआईएमएल), जनता दल सेक्लुयर (जेडीएस), वीसीके, सीपीआई, राष्ट्रीय लोक दल (रालोद) और जम्मू एंड कश्मीर नेशनल कांफ्रेंस को दो-दो सीटों पर विजय हासिल हुई है।

सात निर्दलियों ने भी फहराया जीत का परचम

इसके अलावा युनाइटेड पीपुल्स पार्टी लिब्ररल, असोम गाना परिषद, हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा (सेक्युलर), केरला कांग्रेस (केईसी), रिवोल्युशनरी सोशलिस्ट पार्टी (आरएसपी), नेशनलिस्ट कांग्रेस पार्टी (एनसीपी), वॉइस आफ द पीपुल पार्टी, जोरम पीपुल मूवमेंट, शिरोमणि अकाली दल, राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी, भारत आदिवासी पार्टी, सिक्किम क्रांतिकारी मोर्चा, एमडीएमके, आजाद समाज पार्टी (कांशीराम), अपना दल (सोनेलाल), एजेएसयू पार्टी, आलइंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादे मुस्लिमीन को एक-एक सीटों पर जीत का सेहरा पहनने का मौका मिला। इससे इतर 18वीं लोकसभा में सात निर्दलीय प्रत्याशियों ने भी जीत की माला पहनी है।

भारतीय जनता पार्टी के चुनावी नारे ‘अबकी बार 400 पार’ को टक्कर देने केलिए विपक्षी पर्टियों की कुल एकजुटता ने भाजपा की सीटों में अभूतपूर्व कमी की, लेकिन एनडीए को सबसे बड़ा दल बनाने से नहीं रोक पाईं। भाजपा की अगुवाई वाले एनडीए गठबंधन में कुल 41 दल हैं, जिसमें भाजपा, नेशनल पार्टी, राकांपा, सिक्किम क्रांतिकारी मोर्चा, टीडीपी पार्टियां समेत कई अन्य पार्टियां भी शामिल हैं। तो कांग्रेस की अगुवाई वाले इंडी गठबंधन में कुल 31 पार्टियां शामिल हैं। इनमें से बहुत सी पार्टियों ने चुनाव लड़ा तो कुछ ने नहीं लड़ा, लेकिन उनका स्थानीय स्तर प एनडीए गठबंधन को सहयोग रहता है।

विपक्ष के इंडी गठबंधन में शामिल हैं 31 पार्टियां

दूसरी तरफ इंडी गठबंधन में कुल 31 पार्टियां हैं, भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस (Congress), भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (CPIM) (सीपीआईएम), आम आदमी पार्टी (Aap), तृणमूल कांग्रेस (TMC), भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (CPI), द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (DMK), जम्मू और कश्मीर नेशनल कॉन्फ्रेंस (JKNC), झारखंड मुक्ति मोर्चा (JMM), राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (Sharad Pawar) (राकांपा-एसपी), राष्ट्रीय जनता दल (RJD), समाजवादी पार्टी (SP), शिवसेना उद्धव बालासाहेब ठाकरे (Shivsena UBT), अखिल भारतीय फॉरवर्ड ब्लॉक (AIFB), भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (CPIml), क्रांतिकारी समाजवादी पार्टी (RSP), केरल कांग्रेस एम (KCM), विदुथलाई चिरुथैगल काची (VCK), मरुमलार्ची द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (MDMK), जम्मू और कश्मीर पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (PDP), केरल कांग्रेस (KC), इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग (IUML), राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी (RLP), मणिथानेया मक्कल काची (MMK), कोंगुनाडु मक्कल देसिया कच्ची (KMDK), भारतीय किसान और मजदूर पार्टी (PWPI), रायजोर दाल (RD), असम जातीय परिषद (AJP), आंचलिक गण मोर्चा (AGM), ऑल पार्टी हिल लीडर्स कॉन्फ्रेंस (APHLC), गोवा फॉर्वर्ड पार्टी (GFF), हमरो पार्टी (HP), मक्कल नीधि मैयम (MNM), जन अधिकार पार्टी (JAP), विकासशील इंसान पार्टी (VIP), पूर्वांचल लोक परिषद (PLP), जातीय दल असम (JDA), समाजवादी गणराज्य पार्टी (SGP) शामिल हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button