पूर्वांचल

राम मंदिरः जनवरी में विराजेंगे रामलला, 1000 साल तक नहीं पड़ेगी रिपेयरिंग की जरूरत

सुंदरवन पहुंचे चंपतराय ने बताया, महाराष्ट्र की लकड़ी से बनाए जा रहे दरवाजे

भदोही (संजय सिंह). श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र अयोध्या के महासचिव चंपत राय ने कहा 15 से 24 जनवरी, 2024 के बीच उपयुक्त तिथि में श्रीरामलला (अयोध्या) की प्राण प्रतिष्ठा की जाएगी। मंदिर निर्माण के प्रथम तल का कार्य पूर्ण हो गया है। अयोध्या में बन रहे Ram Mandir के गर्भगृह में मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम बाल स्वरूप में विराजमान होंगे। गर्भगृह का कार्य अक्टूबर माह तक पूरा कर लिया जाएगा। मंदिर के प्रथम तल पर भगवान श्रीराम का परिवार विराजमान होगा।

भदोही जिले के सुंदरवन में एक धार्मिक आयोजन में शिरकत करने पहुंचे चंपत राय पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा, राममंदिर में चौखट का निर्माण मार्बल से किया जा रहा है और दरवाजे (किवाड़) महाराष्ट्र से लाई गई लकड़ियों से बनाए जा रहे हैं। दरवाजों में नक्काशी का कार्य किया जा रहा है। लगभग 21 लाख घन फीट ग्रेनाइट और सैंड स्टोन का मंदिर में प्रयोग हो रहा है। यह मंदिर इस प्रकार बनाया जा रहा है कि इसे आने वाले एक हजार साल में भी मरम्मत की जरूरत नहीं होगी। रामलला के दर्शन के लिए आने वाले लोगों के लिए सभी प्रकार की सुविधाएं विकसित की जा रही हैं।

Jyoti Maurya Case: SDM ज्योति नहीं हुईं पेश, अब 18 अगस्त को होगी अगली सुनवाई
45 दिन का होगा महाकुंभ 2025, 13 जनवरी को पहला और 26 फरवरी को होगा आखिरी स्नान

भदोही के सुंदरवन में स्थित श्रीराम-जानकी मंदिर परिसर में चंपत राय ने शिवलिंग आकार के मंदिर के नक्शे का उद्घाटन किया। मंदिर परिसर में उन्होंने भक्तों के साथ रुद्राभिषेक भी किया। सुंदरवन में बन रहा शिवलिंग आकार का मंदिर 180 फीट ऊंचा होगा और विश्व विख्यात होगा। इस मंदिर का भी निर्माण कार्य तेजी से चल रहा है।

माता राजलक्ष्मी ने बताया कि सुंदरवन में नौ टन वजनी शिवलिंग की स्थापना करवाई गई है। यहां पर विश्व के सबसे बड़े शिवलिंग के आकार के मंदिर का निर्माण कार्य करवाया जार हा है। शिवलिंग मंदिर की चौड़ाई 180 फीट और चौड़ाई 144 फीट होगी। इसमें 40 फीट पाताल रहेगा, उसी में गर्भगृह बनाया जाएगा।

 घर से निकली महिला और अप लाइन पर आती ट्रेन के सामने लेट गई!
खुली पोलः प्रसव के लिए मिर्जापुर भेजी जा रहीं महिलाएं, अधीक्षक समेत तीन डाक्टर रहे गायब

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button